Jaawe Chand Dikhai me Lyrics - Ajit Singh Tanwar

 Jaawe Chand Dikhai me Lyrics - Ajit Singh Tanwar

Jaawe Chan dikhai me (Official Video Song) a New Fresh Rajasthani Song 2020. Sung by Ajit Singh Tanwar

Jaawe Chand Dikhai me in Hindi

तारा की भी आँख्या खुलगी थारी एक अंगड़ाई में
थारे सामें चाँद समुचो जावे यार दिखाई में
तारा की भी आँख्या खुलगी थारी एक अंगड़ाई में
थारे सामें चाँद समुचो जावे यार दिखाई में
कुदरत का रंग चूड़ी बणग्या थारी गोल कलाई में
थारे सामें चाँद समुचो जावे यार दिखाई में

गोल गोल गोरो सो मुखड़ों आँख्या थारी बड़ी बड़ी
होंठ के नोलखे उपरे हीरा सी मुस्कान जड़ी
सारा काम सु छुट्टी ले छोड़ छाड़ कर कंजूसी
हल्के हल्के हाँथा सु तने फुर्सत में भगवान घड़ी
म्हारो मन है रमजाऊ थारी आँख्या की उरनाई में
थारे सामें चाँद समुचो जावे यार दिखाई में
तारा की भी आँख्या खुलगी थारी एक अंगड़ाई में
थारे सामें चाँद समुचो जावे यार दिखाई में

म्हारी साँस साँस में सौरम थारी पूरब की पुरवाई तू
मैं कोई बादिलो भंवरों फुला की नरमाई तु
होले होले मैल फावड़ा लाज को घूँघट सार परो 
नजरा की पगडंडी होता मन आँगनिये आई तू
म्हारो दिन आथे उग जावे थारे संग हताई में
थारे सामें चाँद समुचो जावे यार दिखाई में
तारा की भी आँख्या खुलगी थारी एक अंगड़ाई में
थारे सामें चाँद समुचो जावे यार दिखाई में


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां